रोहित शर्मा अभी एनसीए में हैं (फोटो क्रेडिट: रोहित शर्मा इंस्‍टाग्राम )

रोहित शर्मा अभी एनसीए में हैं (फोटो क्रेडिट: रोहित शर्मा इंस्‍टाग्राम )

आईपीएल (IPL 2020) के दौरान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) चोटिल हो गए थे, जिस वजह से पहले उन्‍हें ऑस्‍ट्रेलिया दौरे के लिए टीम इंडिया (Team India) में शामिल भी नहीं किया गया था, मगर बाद में उन्‍हें टेस्‍ट टीम में शामिल किया गया

नई दिल्ली. पिछले कुछ समय से भारतीय सलामी बल्‍लेबाज रोहित शर्मा (Rohit Sharma) अपनी हैमस्ट्रिंग चोट के चलते काफी चर्चा में हैं. आईपीएल (IPL 2020) के दौरान लगी चोट की वजह से वह मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के लिए कुछ मैच नहीं खेल पाए थे और इसी कारण पहले उन्‍हें ऑस्‍ट्रेलिया दौरे के लिए भी टीम इंडिया (Team India) में शामिल नहीं किया गया था. मगर फिर रोहित ने मुंबई के लिए न सिर्फ मैदान पर वापसी की, बल्कि टीम को पांचवीं बार खिताब भी दिलाया. इसके बाद से ही उनकी चोट पर बहस जारी है. हालांकि बाद में उन्‍हें ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ भारतीय टेस्‍ट टीम में शामिल कर लिया गया था.

आईपीएल खत्‍म होने के बाद रोहित टीम इंडिया के साथ ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर न जाकर भारत लौट आए थे. अपनी चोट पर रोहित ने कहा कि ईमानदारी से कहूं, मैं नहीं जानता कि क्या हो रहा था और लोग किसके बारे में बात कर रहे थे, लेकिन मैं रिकॉर्ड के लिए बता दूं कि मैं बीसीसीआई और मुंबई इंडियंस के साथ लगातार संपर्क में था.

फाइनल में खेली थी अर्धशतकीय पारी
उन्होंने दर्द के बावजूद खेलते हुए दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ आईपीएल फाइनल में 50 गेंद में 68 रन की पारी खेली. ऑस्ट्रेलिया जाने से पहले वह इस समय बेंगलुरू में राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में ‘स्ट्रेंथ एंड कंडिशनिंग’ ट्रेनिंग कर रहे हैं. रोहित ने कहा कि मैंने मुंबई इंडियंस को बता दिया था कि मैं मैदान पर उतर सकता हूं क्योंकि यह छोटा फॉर्मेट है और मैं परिस्थितियों से अच्छी तरह से निपट लूंगा. एक बार मैंने निश्चित कर लिया तो बस उस चीज पर ध्यान लगाने की जरूरत थी जो मैं करना चाहता था.नहीं छोड़ना चाहते कोई कोशिश

उन्होंने कहा कि हैमस्ट्रिंग अब बिलकुल ठीक लग रहा है, इसे मजबूत करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है. लंबे प्रारूप में खेलने से पहले मुझे यह पूरी तरह से निश्चित करने की जरूरत है कि कोई भी प्रयास छूट नहीं गया, शायद यही कारण है कि मैं एनसीए में हूं. आईपीएल में प्लेऑफ में चोट के बावजूद खेलने को लेकर बातें शुरू हो गई थीं, इस पर उन्होंने कहा कि मेरे लिये यह चिंता की बात नहीं थी कि कोई भी क्या बात कर रहा है कि वह ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए जा पाएंगे या नहीं.

यह भी पढ़ें : 

21 साल बाद इंजमाम ने गांगुली के नॉट आउट होने की कबूली सच्‍चाई, अश्विन ने किया सैल्‍यूट

चंदोरकर का खास शतक, 100वां जन्‍मदिन मनाने वाले तीसरे भारतीय क्रिकेटर बने
खेलने के बारे में मुंबई इंडियंस को बता दिया था
उन्होंने कहा कि एक बार चोट लगी तो अगले दो दिन मैंने सिर्फ यही देखने का प्रयास किया कि अगले 10 दिन में मैं क्या कर सकता था, क्या मैं खेल पाऊंगा या नहीं. पांच बार के आईपीएल चैंपियन कप्तान ने कहा कि जब तक मैदान पर नहीं पहुंचते, तब तक पता नहीं चलता कि शरीर कैसे काम कर रहा है. उन्होंने कहा कि लेकिन प्रत्येक दिन हैमस्ट्रिंग चोट की स्थिति बदल रही थी. यह जिस तरह से ठीक हो रही थी तो मैं आश्वस्त हो गया कि मैं खेल सकता हूं और मैंने उस समय मुंबई इंडिंयस को इसके बारे में बता दिया.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here