सनी का मानना था कि फिल्म में शाहरुख को एक विलेन के रूप में जरूर दर्शाया गया, लेकिन सही मायने में फिल्म के हीरो वही थे, जबकि फिल्म की शूटिंग शुरू होने से पहले उन्हें फिल्म का हीरो बताया गया था, जिसके बाद ही सनी फिल्म के लिए हामी भरी थी. इतना ही नहीं फिल्म की शूटिंग के वक्त तो सनी को इतना तेज गुस्सा आया था कि उन्होंने अपना जींस फाड़ दिया था. पिछले साल जब एक टीवी शो पर सनी देओल से जब शाहरुख से बात न करने को लेकर सवाल किया गया, तो उन्होंने इस शो पर पूरी बात बताई थी. उन्होंने कहा था, फिल्म डर की शूटिंग के दिनों को याद करते हुए सनी बोले कि मैं फिल्म में कमांडो के रोल में था और सीन में शाहरुख़ खान को मुझे चाकू मारना था. मैं इतना फिट था तो कोई कैसे मुझे चाकू मार सकता है. इस बात पर मुझे बहुत गुस्सा आया था लेकिन यथ जी बड़े थे तो मैं कुछ नहीं कह सकता था. इसलिए मैंने गुस्से में अपने हाथ जींस की जेब में डाले औरर इतना गुस्सा आया कि मैंने जींस की जेब फाड़ दी लेकिन मुझे पता भी नहीं चला. 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here